भारतीय रेल यात्री आरक्षण पूछताछ

Please help Indian railways and government of India in moving towards a digitized and cashless economy. Eradicate black money.
English
भारतीय रेल में कोटा

क्र.सं. कोटा विवरण
1. GN सामान्य कोटा
2. LD महिला कोटाa
3. HO मुख्यालय/उच्चाधिकारी कोटा
4. DF रक्षा मंत्रालय कोटा
5. PH संसद भवन कोटा
6. FT विदेशी पर्यटक कोटा
7. DP ड्यूटी पास कोट
8. TQ तत्काल कोटा
9. PT प्रीमियम तत्काल कोटा
10. SS वरिष्ठ नागरिकों और अकेले यात्रा करने वाली 45 वर्ष से अधिक आयु की महिलाओं के लिए
11. HP विकलांग कोटा
नोट:
आरएसी किसी शायिका को दो या अधिक सीटों में बांटे जाने की एक विशेष व्यवस्था है. वास्तव में यह कोई कोटा नहीं है किंतु यह उपर्युक्त उल्लिखित विशेष प्रावधानों को ध्यान में रखकर किया गया पूर्व-निर्धारित आबंटन है.
प्रत्येक रोड-साइट स्टेशन कोटे के मामले में, रोड साइट स्टेशन तक की यात्रा के लिए प्रारंभिक स्टेशन से शायिकाएं/सीटें, उस रोड साइड स्टेशन के लिए तय कोटे के अनुसार बुक की जाती हैं. ऐसे मामलों में दूरी-सीमा प्रतिबंध लागू नहीं होते. यदि किसी रिमोट लोकेशन से वह शायिका/सीट रिडिफाइंड की जाती है तो रोड साइड स्टेशन से आगे भी बुकिंग की जा सकती है, यह बुकिंग रिमोट लोकेशन कोटा के लिए निर्धारित सीमा के अंतर्गत होगी. किसी भी स्थिति में क्या किसी थ्रू यात्री को रोड साइड बर्थ पर रिडिफाइंड अनुपात में आरक्षण दिया जा सकता है. उदाहरण के लिए, नई दिल्ली से चेन्नई जाने वाले यात्री को भोपाल तक रोड साइड जनरल बर्थ पर और उसके बाद भोपाल से चेन्नई तक जनरल के रूप में रिडिफाइंड बर्थ पर आरक्षण नहीं दिया जा सकता.